Category Archives: Dev Vyas

तुम्हारे साथ का मौसम बहारों के सरीखा था

तुम्हारे साथ का मौसम बहारों के सरीखा था। हमने गम में भी हंसना तुम्हारे साथ सीखा था॥ तुम्हीं ने जिन्दगी बदली, बदल फिर तुम गए कैसे? अब तो जिन्दगी का…